- News Box

युवा हल्ला बोल के छात्रों नें एसएससी के प्रवेश पत्र को जलाकर परीक्षा बहिष्कार का किया फैसला

देश भर में एसएससी छात्रों ने सरकारी उदासीनता और अपनी समस्याओं के प्रति असंवेदनशीलता के विरोध में अपना प्रवेश पत्र जलाकर परीक्षाओं में भ्रष्टाचार के खिलाफ प्रदर्शन किया । छात्रों का विरोध प्रदर्शन देशभर में दिल्ली,जयपुर,पटना, इलाहाबाद, वाराणसी, लखनऊ, भोपाल,ग्वालियर बैंगलोर ,कानपुर,भागलपुर,मधेपुरा,राँची,कोलकाता,अहमदाबादऔर रोहतक जैसे बड़े शहरों सहित छोटे-छोटे अन्य शहरों में भी हुआ।एक महीने से भी ज्यादा दिनों से अपने हक के लिए लड़ रहे छात्रों ने इस विरोध प्रदर्शन के माध्यम से भ्रष्टाचार के खिलाफ अपनी लड़ाई को जारी रखा है।छात्रों की इस मुहिम को देशभर के छात्रों का समर्थन मिल रहा है।

एसएससी घोटाले के खिलाफ विरोध करने वाले छात्रों में से एक छात्र ने कहा, “सरकार ने पहले हमारे आंदोलन को कमजोर करने की कोशिश की और जब हमने एक रैली आयोजित की तब उसपर पुलिस बल का इस्तेमाल किया गया, लेकिन हम हार नहीं मानने वाले।हम सबने सांकेतिक रूप से एसएससी का बहिष्कार अपना एडमिट कार्ड जला कर किया है और हम तब तक लड़ते रहेंगें जब तक हम एसएससी में व्यापक भ्रष्टाचार को उखाड़ फेंक न देंगें ”

READ  फिलिपीन्स के जॉर्ज रेयलोर डी लुमेन को बने मिस्टर यूनिवर्सल एम्बेसडर 2018

एसएससी उम्मीदवारों ने सीजीओ परिसर के बाहर विरोध में 18 दिन तक लगातार प्रदर्शन किया लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। 18 वें दिन, छात्रों ने सरकार को एक 15 दिवसीय अल्टीमेटम दिया, लेकिन सरकार ने कोई एक्शन नही लिया । अल्टीमेटम समाप्त होने के बाद, हजारों छात्रों ने दिल्ली के संसद मार्ग में 31 मार्च को “युवा हल्ला बोल” रैली का आयोजन किया था।

चूंकि सरकार युवाओं के भविष्य के प्रति उदासीन है, विरोध करने वाले छात्रों ने विरोध प्रदर्शन को देश के सभी शहरों तक ले जाने का फैसला किया और ठान लिया है कि न्याय मिलने तक आन्दोलन को जारी रखेंगे ।

1170cookie-checkयुवा हल्ला बोल के छात्रों नें एसएससी के प्रवेश पत्र को जलाकर परीक्षा बहिष्कार का किया फैसला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *